Off Grid Solar System for Atta Chakki

Off Grid Solar System for Atta Chakki / Flour Mill

आटा चक्की के लिए बेस्ट सोलर सिस्टम का अनुभव

Off Grid Solar System for Atta Chakki / Flour Mill

Off Grid Solar System for Atta Chakki

ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम (Off Grid Solar System for Atta Chakki WITH VFD ) का प्रयोग करके आज के समय बहुत से इंडस्ट्रियलिस्ट अपनी बिजनेस में होने वाले बिजली/ डीजल के खर्च को जीरो करके साल के लाखों बचा रहे हैं। ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम (Off Grid Solar System for Atta Chakki WITH VFD )की अच्छी बात यह होती है कि इसमें बैटरी का प्रयोग नहीं होता है जो इस सिस्टम को लंबे समय के लिए मेंटेनेंस रहित बना देता है। ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम(Off Grid Solar System for Atta Chakki WITH VFD) के द्वारा गुरुप्रसाद मौर्या जी चला रहे हैं अपना आटा मिल, इस कहानी में हम जानेंगे इनका पूरा अनुभव।

गुरु प्रसाद मौर्या जी, जिला मिर्जापुर बरकच्छा गांव के रहने वाले एक आटा चक्की व्यापारी हैं। मिर्जापुर की प्राकृतिक सुंदरता और धार्मिक वातावरण से लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचती है। पर्यटन की दृष्टि से मिर्जापुर उत्तर प्रदेश का काफी महत्वपूर्ण जिला माना जाता है। यह गंगा किनारे स्थित पवित्र स्थल वाराणसी से लगभग 62 किलोमीटर की दूरी पर है।

गुरु प्रसाद जी आटा चक्की व्यापार करने से पहले किराने का दुकान करते थे साथ में इनके कई सारे व्यापार चलते हैं जैसे टेंट हाउस, खरी चुना का व्यापार, रस्सी-पकहा का व्यापार, और दोना पत्तल का व्यापार करते हैं। साथ ही में इनके पास थोड़ी बहुत जमीन है जिस पर फलसा और नींबू की खेती होती है।

इनके गांव में आसपास कोई आटा चक्की में नहीं थी जिसकी वजह से इन्होंने आटा चक्की का भी व्यापार करने का सोचा। लगभग 10 सालों से इनका आटा चक्की का व्यापार चल रहा है जिसे यह डीजल से चलाते थे। यह अपने आटा चक्की का व्यापार दो तीन लोगों को रोजगार देकर काम करवाते हैं। इनके यहाँ 3 आटा चक्की मशीने हैं जो कि 14 इंच, 20 इंच और 24 इंच की है। तेल पेरने के लिए इनके यहाँ दो एक्सपेलर है जो कि 6 बोल्ट और एक मिनी एक्सपेलर है। डीजल इंजन चलाने के लिए इनके पास 22HP की मोटर है।

रोज का इनका डीजल का खर्च लगभग 12-1500 लगता था। डीजल से चक्की चलाना इनकी मजबूरी थी क्योंकि बिजली का कनेक्शन इनके इनके यहाँ नहीं था। जब तक पावर हाउस इनके पास बना तब तक इन्होंने अपनी समस्या का समाधान सोलर से कर लिया‌।

गुरु प्रसाद जी,को सोलर के बारे में‌ जानकारी थी जिसके लिए इन्होंने सरकारी विभाग में अपने चक्की के लिए सोलर लगवाने के लिए अप्लाई किया। किंतु चक्की के लिए कोई सुविधा ना होने की वजह से इन्हें कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली।

कुछ समय बाद आन्या ग्रीन एनर्जी की टीम इनके गांव में विजिट के लिए जाती है जहाँ इनसे टीम की मुलाकात होती है। सोलर के बारे में जानकारी लेने के बाद इनकी जिज्ञासा थी सोलर से चलते हुए सिस्टम देखना। किंतु समय की पाबंदी की वजह से यह केवल इंस्टॉलेशन के ही समय स्ट्रक्चर देख पाते जब तक सिस्टम चालू होता तब तक इन्हें किसी न किसी को लेकर जाना पड़ता था। इसके दौरान लगभग 2 साल बीत गए।

संयोगवश एक बार फिर आन्या ग्रीन एनर्जी की टीम इनके गांव में दोबारा विजिट करती है जहाँ फिर से इन से बातचीत होती है। इस समय इन्होने सोलर (Off Grid Solar System for Atta Chakki WITH VFD) के बारे में संपूर्ण जानकारी ली। सारे मुनाफे घाटे के बारे में जानकारी लेने के बाद इन्होने उसी समय सोलर लगवाने का तय किया।

क्योंकि डीजल की वजह से इनका बचत नहीं हो पा रहा था। जिसकी वजह से इन्होंने सोलर सिस्टम देखकर लगवाने का विचार कर लिया। बातचीत के दो-चार दिन के अंदर ही इन्होंने सिस्टम की बुकिंग कंफर्म कर पेमेंट कर दिया ।

जिसके बाद आन्या ग्रीन एनर्जी के इंजीनियर इनके यहाँ जाकर और दिशा का अच्छे से आकलन कर एसएलडी तैयार करके Off Grid Solar System for Atta Chakki WITH VFD का इंस्टॉलेशन किया।

इनके यहाँ आन्या ग्रीन एनर्जी का मोनो पर्क हाफ कट 540W का 24.3 किलो वाट का सिस्टम लगा है। इसमें 10 बस बार होते हैं, जिसकी वजह से इसकी एफिशिएंसी काफी अच्छी होती है। और यह पॉली की तुलना में कम जगह लेता है।

इनके यहाँ आन्या ग्रीन एनर्जी का 20 एचपी का डबल डोर ड्राइव लगा है, जो विश्व मानको द्वारा सर्टिफाइड है। यह ड्राइव डबल सुरक्षा देने के साथ ip55 वॉटर रेजिस्टेंस की भी फीचर्स होती है जिससे कि पानी से ड्राइव को बचाता है।

इनके यहाँ सावधानी का ध्यान रखते हुए लाइटिंग अरेस्टर और अर्थिंग लगाया जाता है जिससे कि पैनल पर पड़ने वाले आकाशीय बिजली को पैनल से बचाकर लाइटिंग अरेस्टर और अर्थिंग वायर के द्वारा अर्थ (जमीन) में बिजली को भेज देती है।

मजबूती का ध्यान रखते हुए जी आई (GALVENISED IRON ) का प्रयोग स्ट्रक्चर के लिए करती है जिससे कि स्ट्रक्चर में कभी जंग नहीं लगता और स्ट्रक्चर के साथ पैनल भी मजबूती के साथ सालों साल तक टिका रहता है।

Experience with the Off Grid Solar System for Atta Chakki/ Flour Mill with VFD :

इनका सोलर के साथ अनुभव काफी अच्छा रहा है। सोलर (Off Grid Solar System for Chakki/ Flour Mill with VFD) के साथ इनका काफी अच्छा काम चल रहा है इनके कर्मचारी भी काफी खुश हैं सोलर से वह समय पर काम करके घरवालों के साथ समय बिताते हैं। गर्मी के दिनों में उन्हें डीजल इंजन चलने की वजह से काफी परेशानी होती थी जो कि अब उन्हें इन सब चीजों का सामना नहीं करना पड़ता। कस्टमर भी काफी खुश हैं उन्हें शोर वगैरह जैसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ता। आराम से आकर बैठते हैं ।
सोलर (Off Grid Solar System for Atta Chakki) से इनका बचत हो रहा है इनका कहना है कि जो इनके डीजल के खर्चे वह बचते हैं। और बचत से अपने कई सारे कामों को कर पाते हैं। सोलर से प्रदूषण कम करने पर समाज में एक अहम योगदान दे रहे हैं जिसकी वजह से उन्हें काफी अच्छा प्रतीत होता है। और आने वाले समय में यह अपने घर पर भी सौर ऊर्जा लगवा कर अपने अपने घरेलू बिजली के बिलों से भी छुटकारा पा जाएंगे

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें :